Wednesday , 15 January 2020
Beautiful inspirational messages great meaning by Pablo Neruda
Home » Tag Archives: Kabir Das Thoughts

Tag Archives: Kabir Das Thoughts

Kabir ke Dohe in Hindi | Sant Kabir Das Dohe with Meaning

अति का भला न बोलना, अति की भली न चूप, अति का भला न बरसना, अति की भली न धूप। अर्थ : न तो अधिक बोलना अच्छा है, न ही जरूरत से ज्यादा चुप रहना ही ठीक है. जैसे बहुत अधिक वर्षा भी अच्छी नहीं और बहुत अधिक धूप भी अच्छी नहीं है. — निंदक नियरे राखिए, ऑंगन कुटी छवाय, बिन पानी, …

Read More »